The miracle morning by Hal Elrod Book Summary In Hindi

The miracle morning by Hal Elrod Book Summary

आपकी लाइफ का सबसे बड़ा एडवेंचर (Adventure) वह है जब आप अपने सपनों का जीवन जीते हैं सुबह उठने के अपने आप रोज को बदल कर आप अपनी लाइफ को उस तरह से बदल सकते हैं जिसे आप इमेजिन (imagine) भी नहीं कर सकते।

Introduction: The miracle morning 

आपने कभी ऐसा महसूस किया है कि आप अपनी लाइफ अपने पूरे पोटेंशियल (potential) से नहीं जी रहे हैं या आपने जो भी सपने देखे वह सिर्फ सपने ही रह गए क्योंकि आपने यह कभी नहीं सोचा कि आप उन्हें हकीकत में बदल सकते हैं इस Post में हम कुछ ऐसे सीक्रेट के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से आप अपनी औसत दर्जे की लाइफ को अपनी मनचाही लाइफ में बदल सकते हैं चाहे आप एक बिजनेसमैन (Businessman) हो स्टूडेंट (Student) हो हाउसवाइफ (Housewife) हो या फिर कोई ओर अगर आप अपनी लाइफ में कोई बहुत बड़ा बदलाव चाहते हैं तो आज का हमारा यह पोस्ट (Post) सिर्फ आपके लिए है  The Miracle Morning में पर्सनल डेवलपमेंट (Personal Development) की एक रूटीन (Routine) बताई गई है जिसे फॉलो (Follow) करके ना सिर्फ खुद लेखक (Author) बल्कि लाखों लोगों ने अपना जीवन बदला और अगर आप चाहें तो आप भी दिन के कुछ मिनट देकर अपना जीवन बदल सकते हैं।

दोस्तों इससे पहले कि आप हमारे इस पोस्ट में खो जाए हम आपको बता देते हैं कि अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगे तो हमें कमेंट में जरूर बताइए तो चलिए शुरू करते हैं चैप्टर नंबर एक (Chapter No. 1) से।

Chapter 1:  It's time to wake up to your full potential.

हम लोग अक्सर बचपन में एस्कॉर्ट के साथ पहले बड़े होते हैं कि जब हम बड़े हो जाएंगे तो हम जो बनना चाहते हैं वह बनेंगे और अपने मन मुताबिक लाइक भी आएंगे अब जवाब बड़े हो गए हैं तो क्या आप जैसी लाइफ जी रहे हैं जैसे जीना चाहते थे या फिर आप जो भी जाते हैं उससे बहुत कम ही समझौता करके अपनी लाइफ बिता रहे हैं क्या आप अपनी लाइफ में हर एक पैक में पूरे पोटेंशियल के साथ जी रहे हैं या फिर आपकी लाइफ में कुछ ऐसे पहलू है जहां आप बहुत कम हासिल करके भी खुश रहने की कोशिश कर रहे हैं और खुद को जस्टिफाई कर रहे हैं oprah winfrey ने एक बार कहा था कि 

The biggest adventure you can ever take is to live the life of your dreams

इसका मतलब है कि आपकी लाइफ का सबसे बड़ा adventure वह है जब आप अपने सपनों का जीवन जीते हैं लेकिन ज्यादातर लोगों के लिए यह बात बस एक कहावत से ज्यादा और कुछ नहीं है क्योंकि ज्यादातर लोग अपने सपनों को पूरा करने के बजाय एक औसत दर्जे के लाइफ जीते रहते हैं लेकिन सिर्फ इसलिए कि हर कोई जो भी चाहता है उसे बहुत थोड़े में समझौता कर लेता है इसका मतलब यह नहीं कि आप को भी ऐसे ही जीना होगा इसकी शुरुआत इस से होती है कि आप अपने दिन की शुरुआत कैसे करते हैं आप सुबह कैसे जागते हैं इस Book में ऐसे कई सारे छोटे छोटे और आसान Steps के बारे में बताया गया है जिनको फॉलो करके आप अपनी मनचाही success पा सकते हैं।

The Miracle Morning सिर्फ आपकी लाइफ को ही नहीं बदलेगा बल्कि यह मजेदार और आसान एक्टिविटी आपकी habit बन जाएगी आइए जानते हैं कि जब आप The Miracle Morning की शुरुआत करते हैं तो इससे आपको कौन कौन से फायदे होते हैं।

आप हर दिन ज्यादा energetic और excited होकर जागेंगे इसकी बदौलत आपका Stress level भी कम होगा आपकी Overall health अच्छी हो जाएगी आप ज्यादा productive और focused रहेंगे आपकी income पढ़ने लगेगी आप बिना किसी समझौते के अपने सपनों का जीवन जी पाएंगे इन बातों को सुनकर आपको ऐसा लग सकता है कि यह सब बस खोखले दावे हैं लेकिन सच्चाई तो यह है कि The Miracle Morning को अपनाकर हजारों नहीं बल्कि लाखों लोगों ने अपनी लाइफ को बदला है और मनचाही success हासिल की है।

Chapter 2:  The Miracle morning original born out of desperation.

कभी-कभी भी जब आपकी लाइफ में Problems आते हैं तो उन प्रॉब्लम को दूर करने के लिए आप कुछ ऐसे कदम उठाते हैं जिनके बारे में आपने दूर-दूर तक नहीं सोचा होता इस बुक के Author Hal Elrod  के ही लाइफ में भी दो बार ऐसे ही चैलेंज जाए पहली बार उनके सामने एक बड़ा चैलेंज तब आया जब 20 साल की उम्र में Hal का एक भयानक कार एक्सीडेंट हो गया इस एक्सीडेंट में हाल clinically 6 मिनट के लिए मर चुके थे क्योंकि एक्सीडेंट के 6 मिनट तक हाल के दिल ने धड़कना बंद कर दिया था लेकिन 6 मिनट बाद अचानक हाल के दिल की धड़कन दोबारा शुरू हो गई जिसके बाद उन्हें एयरलिफ्ट करके हॉस्पिटल पहुंचाया गया हाल 6 दिनों तक कोमा में रहे और जब वह कोमा से बाहर निकले तो उन्हें पता चला कि उनकी बॉडी में काफी सारे फ्रैक्चर हुए हैं और उनके सर में भी भारी चोट आई है डॉक्टरों की इस बात को सुनकर हाल समझ गए थे कि उनकी लाइफ अब पहले जैसी आसान नहीं रहेगी लेकिन हाल में अपनी रियालिटी को एक्सेप्ट किया और यह फैसला किया कि वह हार नहीं मानेंगे उन्होंने डिसाइड किया कि वह हर हाल में अपने सपनों को पूरा करेंगे और अपने साथ-साथ दूसरों को भी अपने सपनों को पूरा करने के लिए मोटिवेट करेंगे जिंदगी के प्रति इस नए एटीट्यूड की बदौलत यह कार एक्सीडेंट उनकी लाइफ में होने वाली सबसे अच्छी चीजों में से एक बन गई क्योंकि इसके बाद उन्होंने ना सिर्फ अपने आप को फिजिकली फिट बनाया बल्कि उन्होंने अपनी पहली बुक भी लिखी और एक मोटिवेशनल स्पीकर के रूप में बड़े-बड़े इंस्टिट्यूट और कॉलेज में जाकर लोगों को मोटिवेट किया।

और एक बड़ी कंपनी के सेल्स मैनेजर भी बन गए जहां उन्होंने 1 साल के अंदर ही अपनी सेल को डबल कर दिया दूसरी बार हाल की लाइफ में बड़ा चैलेन्ज तब आया जब सन् 2008 में रिसेशन आया और हाल बुरी तरह से करजे में डूब गए हाल कहते हैं कि उनकी लाइफ का यह फेस उनके एक्सीडेंट से भी ज्यादा बुरा था क्योंकि जब उनका एक्सीडेंट हुआ था तब उनके आसपास उनकी फैमिली और उनके फ्रेंड्स हमेशा उनकी मदद के लिए थे लेकिन रिसेशन के दौरान हर कोई खुद की प्रॉब्लम में फसा हुआ था आज इतने डरे हुए और कंफ्यूज थे कि वह अपने बेड पर ढंग से आराम भी नहीं कर पा रहे थे।

लेकिन एक दिन वह सुबह उठे और उन्होंने अपनी सिचुएशन को बदलने का फैसला किया उन्होंने अपने फ्रेंड की एक्सरसाइज करने की एडवाइज को फॉलो करने का सोचा सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का उनका यह फैसला उनके लिए लाइफ चेंजिंग साबित हुआ साथ ही साथ हाल Jim Rohn के पर्सनल डेवलपमेंट ऑडियो उसको भी सुनने लगे जिससे उनके अंदर पॉजिटिविटी बढ़ने लगी इससे इंस्पायर होकर उन्होंने एक मॉर्निंग रूटीन बनाने का फैसला किया जिसे उन्होंने The miracle morning का नाम दिया।

Chapter 3: The 95% Reality Check

हाल के मुताबिक लगभग 95% लोग अपनी लाइफ में जो चाहते हैं उससे बहुत कम में अपनी लाइफ बिताते हैं यह लोग रिग्रेट में जीते हैं और ऐसा चाहते हैं कि काश उनके पास थोड़ा ज्यादा होता लेकिन वह यह नहीं जानते कि वह जो चाहे कर सकते हैं और जो चाहे पा सकते हैं अच्छी बात यह है कि आप इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं इसका मतलब यह है कि आप अपनी लाइफ में आगे बढ़ना चाहते हैं और नेक्स्ट लेवल को अचीव करना चाहते हैं हाल ने यहाँ इन 3 Steps के बारे में बताएं हैं ताकि आप 95% से बाहर निकलकर टॉप 5% में शामिल हो सके।

Step 1: Acknowledged The 95% reality check.

सबसे पहले आपको इस बात को समझना होगा कि हमारी सोसाइटी के लगभग 95% लोग ऐसी लाइफ कभी नहीं जी पाते जैसी वह चाहते हैं इसलिए हमें यह ध्यान में रखना होगा कि अगर हम इन 95% लोगों से अलग तरीके से नहीं सोचेंगे तो हम भी कभी भी अपनी ड्रीम लाइफ नहीं जी पाएंगे।

Step 2: Identify the causes of mediocrity.

एक बार जब हम यह बात समझ लेते हैं कि कैसे 95% लोग बहुत कम में समझौता कर लेते हैं और जिंदगी भर स्ट्रगल करते रहते हैं तो अगला कदम यह समझना है कि क्यों आपको अपने साथ ऐसा होने से रोकना है आपको यह पता लगाना होगा कि ऐसे लोग ऐसी कौन सी गलती कर रहे हैं जिसकी वजह से उन्हें एक सामान्य लाइफ जीनी पड़ रही है हम सभी अपनी लाइफ में हर aspect में सक्सेस पाना चाहते हैं लेकिन इस तरह की लाइफ अपने आप ही नहीं मिलती इस तरह की लाइफ को डिजाइन करना पड़ता है और इसके लिए काम करना पड़ता है इसके लिए हमें मीडियोक्रिटी के causes को पहचानना सीखना होगा ताकि हम अपने आप को इससे अलग कर सकें।

Step 3: Draw a line in the sand.

आखरी मे आपको यह तय करना है कि वह कौन सी चीज है जो आप अलग तरीके से कर सकते हैं और आज से शुरू कर सकते हैं आपको आज यह डिसाइड करना होगा कि अपनी लाइफ को बेहतर बनाने के लिए आप जरूरी बदलाव करने के लिए तैयार है आपको वह सब करने के लिए तैयार रहना होगा जो आपने पहले कभी नहीं किया।

Chapter 4: Why did you wake up this morning?

सायद ये कोई कॉमन क्वेश्चन नहीं है लेकिन जरा एक बार सोचे आज आप सुबह क्यों जागे इसलिए कि आप सच को जागना चाहते थे या फिर आपको जागना ही था ज्यादातर लोग सुबह इसलिए उठते हैं क्योंकि या तो उन्हें कुछ करना होता है या उन्हें कहीं जाना होता है लेकिन अगर उन्हें मौका मिले तो वह दोबारा सो जाएंगे अपने जागने के टाइम में देर करते रहना ठीक उसी तरह है जैसे अपनी लाइफ को जीने से डालते रहना सुबह उठने के अपने अप्रोच को बदलकर आप अपनी लाइफ को उस तरह से बदल सकते हैं जिसे आप इमेजिन भी नहीं कर सकते।

हाल कहते हैं कि लोगों को सिर्फ इतनी ही नींद की जरूरत होती है जितना उन्हें लगता है कि उन्हें जरूरत है सुबह उठने पर आप कैसा महसूस करते हैं वो इस बात पर डिपेंड नहीं करता कि आप कितनी देर से सोए हैं बल्कि वह आपकी कंडीशनिंग पर डिपेंड करता है कि उठने के बाद आप कैसा महसूस करना चाहते हैं।

Example के तौर पर अगर आपको लगता है कि आज रात आपके लिए 8 घंटे की नींद जरूरी है लेकिन आप रात 12:00 बजे सोते हैं और सुबह 6:00 बजे आपको जागना पड़ता है तो आप यह सोचेंगे कि आपने जरूरत के मुताबिक नींद पूरी नहीं की इसलिए थका हुआ महसूस कर रहे हैं।

हाल ने यह पाया कि चाहे आपने कितने ही घंटे की नींद ली हो अगर बिस्तर से उठने के बाद आप अपने माइंड को इस तरह से कंडीशन कर सकें कि आपने जरूरत के मुताबिक नींद पूरी की है तो आप सुबह उठते ही एक्साइटिड फील करेंगे इस एक्सपेरिमेंट को एक बार आजमा कर देखें कि यह आपके लिए काम करता है या नहीं माइंड और बॉडी का यह कनेक्शन बहुत ही पावरफुल है चाहे आपने जितनी ही घंटे की नींद ली हो आपको इस चीज की रिस्पांसिबिलिटी लेनी ही होगी कि आप हर दिन Energetic होकर जागेंगे अपनी लाइफ में एक ऐसे टाइम के बारे में सोचिए जब आपको सुबह उठने के लिए खुद को फोर्स ना करना पड़े और आप सचमुच सुबह उठने के लिए एक्साइटिड हो The miracle morning आपके लिए एक ऐसे एक्सपीरियंस को क्रिएट करने में आपकी मदद करेगा ताकि आप हर दिन एक्साइटिड और Energize कर जागे।

Chapter 5: The 5 step snooze proof wake up strategy.

Snooze button सुबह के टाइम बहुत सारे लोगों का बेस्ट फ्रेंड होता है इस सेक्शन में आप यह जानेंगे कि कैसे स्नूजिंग की आदत से छुटकारा पाया जाए जो आपको अपने success से दूर रखता है।

Step 1: Before bed, set your own intentions.

इस बात का ध्यान रखें कि आमतौर पर आप सुबह उठकर उसी चीज के बारे में सोचते हैं जिस चीज के बारे में आप रात को सोते जाते वक्त सोच रहे होते हैं अगर आप सोते वक्त पॉजिटिव थॉट के साथ सोते हैं तो सुबह उठने पर भी आपके अंदर पॉजिटिविटी बनी रहेगी लेकिन इसका ठीक उल्टा अगर आप नेगेटिव थॉट के साथ सोते हैं तो सुबह भी आपके अंदर नेगेटिविटी बनी रहेगी इसलिए रात को सोते वक्त हमेशा पॉजिटिव थॉट के साथ ही सोए।

Step 2: Do not put your alarm anywhere within your reach.

अपने अलार्म क्लॉक को अपनी पहुंच से दूर रखने पर आप उठ कर उसे बंद करने पर मजबूर हो जाते हैं इस तरह से आपकी बॉडी में मूवमेंन्ट आती है जो नींद से बाहर आने में आपकी मदद करती है।

Step 3: Brush your teeth and wash your face.

अपने अलार्म को बंद करने के बाद अपने दांतों को ब्रश करें और अपने चेहरे पर पानी के छींटे मारे।

Step 4: Hydrate yourself.

सुबह उठकर सबसे पहले एक गिलास पानी पीना बहुत जरूरी है ज्यादातर टाइम लोग सुबह उठने के बाद थका हुआ फील करते हैं क्योंकि वह डिहाइड्रेटेड होते हैं सुबह उठकर सबसे पहले पानी पीने पर आप रात भर में अपनी बॉडी में हुए पानी की कमी को दूर कर सकते हैं।

Step 5: Change your cloths or take a shower.

आप या तो एक्सरसाइज कर सकते हैं या फिर शावर ले सकते हैं कुछ लोग सबसे पहले एक्सरसाइज करना पसंद करते हैं और उसके बाद शावर लेते हैं वहीं दूसरी ओर कुछ लोग पहले शावर लेना पसंद करते हैं यह पूरी तरह से आप पर डिपेंड करता है कि आपको क्या पसंद है।

Chapter 6:  The life S.A.V.E.R.S Six practices guaranteed to save you from a life of unfulfilled potential.

आज कल की एडवांस दुनिया अपॉर्चुनिटी और रिसोर्सेज से भरी पड़ी है लेकिन फिर भी हम में से ज्यादातर लोग अपने अंदर छिपी अनलिमिटेड पोटेंशियल को यूज नहीं कर पाते हम लोग अपने-अपने survival में इतने busy हो जाते हैं कि हम अपनी लाइफ पर फोकस करना भूल जाते हैं हम सोचते हैं कि हमारी लाइफ की situation बाहरी circumstances लोगो और जगहों पर डिपेंड करती हैं।

जबकि ऐसा नहीं है हमारी लाइफ का एक Deeper level भी है जो internal component,  attitudeऔर mindset पर डिपेंड करता है। जिससे हमें अपनी लाइफ को बदलने की ताकत मिलती है हाल ने यहां पर्सनल डेवलपमेंट के 6 तरीके बताए हैं जिसको फॉलो करके ना सिर्फ खुद हाल ने बल्कि लाखों लोगों ने अपनी मनचाही सक्सेस पाई है और जिन्हे फॉलो करके आप भी अपने सपनों को पूरा कर सकते हैं हाल ने इसे S.A.V.E.R.S का नाम दिया है जिसमें आपको अपनी सुबह का सिर्फ एक घंटा इन्वेस्ट करना है तो चलिए इन तरीकों के बारे में जानते हैं।

S Stands for silence.

आजकल के शोर भरे भागती दौड़ती जिंदगी में साइलेंस या एकांत में टाइम बिताना बहुत जरूरी है इससे आपको सोचने का टाइम मिलता है और आप खुद पर फोकस कर पाते हैं भागदौड़ भरी सुबह से बाहर निकले और कुछ टाइम मेडिटेशन, प्रेयर, डीप ब्रीथिंग ग्रिटीट्यूड के लिए निकालें यह जरूरी है कि इस प्रैक्टिस को करने के लिए आप अपने बिस्तर से बाहर निकल कर इसे करें ताकि आपके अंदर दोबारा सोने की इच्छा ना जागे।

A stand for Affirmations.

लोगों को जोर-जोर से Affirmations पड़ता देख कर आपको थोड़ा अजीब लग सकता है लेकिन Affirmations आपकी लाइफ में पॉजिटिविटी को अट्रैक्ट करती हैं आपके Affirmations आपके अंदर एक ऐसे माइंडसेट को डिवेलप करने में मदद कर सकते हैं ऐसे आप अपनी लाइफ को नेक्स्ट लेवल तक ले जा सकते हैं आप Affirmations का यूज अपने आपको कॉन्फिडेंट और सक्सेसफुल बनाने के लिए भी कर सकते हैं अपने Affirmations को बनाने के लिए आपको यह अच्छी तरह से पता होना चाहिए कि आप क्या बनना चाहते हैं और क्या पाना चाहते हैं।

V stands for Visualisation.

क्रिएटिव visualisation आपकी फ्यूचर के vision को क्रिएट और डिजाइन करने में आपकी मदद करती है visualisation के लिए किसी  शांत जगह पर बैठे और आप चाहे तो बैकग्राउंड में कोई सॉफ्ट म्यूजिक चला सकते हैं इसके बाद गहरी सांसें लें और अपने माइंड को शांत करें अब visualise करें कि आप अपनी लाइफ में क्या चाहते हैं और क्या बनना चाहते हैं।

E stands for Exercise.

मॉर्निंग एक्सरसाइज आपके डेली रूटीन का एक इंपॉर्टेंट हिस्सा है सिर्फ कुछ देर की Exercise भी आपकी एनर्जी को बढ़ा देती है और आपके मूड को बेहतर करती है एक्सरसाइज आपकी स्वास्थ को इंप्रूव करने के साथ-साथ आपको इमोशनली भी फिट बनाती है और आपके सेल्फ कॉन्फिडेंस को बढ़ाती है साथ ही साथ यह आपको  फोकस्ड रहने मे भी मदद करती है।

R stands for Reading.

नई नॉलेज और नई आइडिया के लिए रीडिंग करना बहुत जरूरी है आप अपनी लाइफ में जो भी पाना चाहते हैं उसके ऊपर आपको ऐसी अनगिनत बुक्स मिल जाएंगी जिससे आप जान पाएंगे कि आप इसे कैसे पा सकते हैं ऐसे लोगों के बुक पढ़े जो उस मुकाम पर ऑलरेडी है जहां आप जाना चाहते हैं ऐसे लोगों से सीखे जो उस फिल्म में एक्सपर्ट है जो आप काम करना चाहते हैं ज्यादा से ज्यादा सेल्फ हेल्प और पर्सनल डेवलपमेंट की बुक्स पढ़ने की कोशिश करें चाहे आप बस 10 पेजेस ही पड़े लेकिन हर रोज बुक पढ़ने की आदत को डिवेलप करें।

S stands for Scribing.

Scribing Writing The miracle morning  के S.A.V.E.R.S की लास्ट step है अपने थॉट्स को लिखने से आप अपने थॉट्स के प्रति ज्यादा Aware हो जाते हैं इससे आपको कभी-कभी कुछ ऐसी चीजें पता चलती है जिसे बिना लिखे आप नोटिस नहीं कर पाएंगे

राइटिंग की हैबिट को डिवेलप करने के लिए रोज जर्नल बनाना सबसे अच्छा तरीका है जर्नलिंग से आपके अंदर क्लेरिटी आती है आपके दिमाग में नए-नए आइडिया जाते हैं और आप अपनी पर्सनल प्रोग्रेस को भी ट्रैक कर पाते हैं।

Chapter 7: The 6-Minute miracle (For The busy people).

अगर आप ऐसे ही इंसान है जिसके लिए 1 घंटे का टाइम निकालना बहुत मुश्किल है तो यह चैप्टर सिर्फ आपके लिए है राइटर ने बिजी लोगों के लिए 6 मिनट के लिए एक प्रैक्टिस डिजाइन की है ताकि आप The miracle morning का फायदा उठा सकें और मनचाहे रिजल्ट पा सके चाहे आप जितने भी बिजी हो फिर भी आपको 6 मिनट की यह प्रैक्टिस जरूर करनी है अगर आप 6 मिनट की इस प्रेक्टिस को भी कर ले तो भी आप के लिए लाइफ चेंजिंग साबित हो सकती है


Minute First: थोड़ी देर के लिए शांत होकर साइलेंस में बैठे इसके बाद अपनी सांसों पर ध्यान लगाएं आप चाहे तो कोई प्रेयर या मेडिटेशन भी कर सकते हैं।

Minute Second: अपने Affirmations की लिस्ट को जोर से पढ़ें अपने Affirmations को जोर से पड़ने पर आप कॉन्फिडेंट और एनर्जाइज महसूस करेंगे।

Minute Third: अपनी आंख बंद करें और अपने Goals पर फोकस करें हो सके तो एक विजन बोर्ड बनाएं और इस 1 मिनट में अपने विजन बोर्ड पर पूरी तरह से फोकस करें।

Minute Forth: ऐसी सारी चीजों को लिखें जिनके लिए आप थैंकफूल और कमेटी रहें और जिन चीजों पर आपको गर्व है। 

Minute Fifth: अच्छी सी मोटिवेशनल और इंस्पिरेशनल बुक ले और कम से कम कुछ पेजें जरूर पढ़े ताकि आपको ऐसे आइडियाज मिले जिन्हें आप अपनी लाइफ में अप्लाई कर सकें।

 Minute Six: इस आखिरी मिनट में अपनी बॉडी में मुवमेन्ट लाएं इसके लिए आप वॉकिंग, जंपिंग जैक, पुशअप कुछ भी ऐसा कर सकते हैं जिससे आपकी दिल की धडकन बढ़े और आप पूरी बॉडी में एनर्जी महसूस करें।

Chapter 8: Customising your miracle morning to fit your lifestyle and achieve your highest goals and dreams.

The miracle morning की रूटीन को कोई भी फॉलो कर सकता है चाहे आप एक हाउसवाइफ हो या एक बिजनेसमैन हो या फिर 9 to 5 Job करने वाले कोई एम्पलाई हो अपने सुबह उठने के टाइम से लेकर पूरी एक्टिविटी को खत्म करने के समय तक आप The miracle morning की रूटीन को अपने मुताबिक कस्टमाइज कर सकते हैं।

Wake up and start time: यह सुनने में थोड़ा उल्टा लग सकता है लेकिन यह जरूरी नहीं है कि आप अपने The miracle morning को सुबह सुबह ही स्टार्ट करें क्योंकि ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिन्हें देर रात तक काम करना पड़ता है तो जाहिर सी बात है कि वह इतनी सुबह नहीं उठ सकते The miracle morning के लिए आपको अपने जागने के रेगुलर टाइम से बस 1 घंटे पहले जागना है ताकि आप अपने पर्सनल डेवलपमेंट को फॉलो कर सके।

When, Why and What to Eat.

आप कब खाते हैं क्या खाते हैं और क्यों खाते हैं यह आप की डेली रूटीन का एक इंपॉर्टेंट फेक्टर है 

When to Eat?

फूड डाइजेशन आपकी बॉडी का एक ऐसा मेटाबॉलिक प्रोसेस है जिसमें काफी एनर्जी लगती है राइटर कहते हैं कि आप सुबह अपनी The miracle morning की रूटीन को खत्म करने के बाद ही कुछ खाएं लेकिन अगर आपको शुरुआत में ही कुछ खाने का मन कर रहा हो तो आप कुछ हल्का-फुल्का खा सकते हैं।

Why to Eat?

आप जो भी कुछ खाते हैं वह क्यों खाते हैं क्या इसके टेस्ट की वजह से इसके टेक्सचर की वजह से या फिर हेल्थ बेनिफिट की वजह से अगर आप एनर्जेटिक और हेल्दी रहना चाहते हैं तो यह बहुत जरूरी है कि आप देखें कि आप जो भी कुछ खाते हैं वह क्यों खाते हैं।

What you Eat?

इससे पहले कि हम यह बात करें कि आप को क्या खाना चाहिए आइए जान लेते हैं कि आपको क्या पीना चाहिए और कैसे पीना चाहिए।

सुबह उठने पर आपको सबसे पहले पानी पीना चाहिए क्योंकि रात भर की नींद के बाद आपका शरीर भी हाइड्रेटेड हो जाता है इसके बाद आप चाहे तो चाय या कॉफी पी सकते हैं।

जब बात खाने की आती है तो आपको ताजे फल और सब्जियां खानी चाहिए क्योंकि यह आपकी एनर्जी को बढ़ाते हैं और आपके कंसंट्रेशन लेवल को भी इंप्रूव करते हैं इसके अलावा यह आपको हेल्दी रखते हैं और कई सारी बीमारियों से भी बचाता है।

Chapter 9: From Unbearable to Unstoppable: (The real secret to forming habits that will transform your life in 30 days).

अच्छे हैबिट आपको अपनी लाइफ के Aspect मे success हासिल करने में आपकी मदद करते हैं हमारे ये हैबिटस की क्वालिटी हमारे लाइफ की क्वालिटी को define करती है अगर आप अपने हैबिट को कंट्रोल नहीं करेंगे तो आपके हैं हैबिट आप को कंट्रोल करने लगेंगे

The miracle morning 30-day "Habits Mastery" Strategy.

किसी भी नए हैबिट को बनाने में लोगों की सबसे बड़ी प्रॉब्लम यह होती है कि उनके पास कोई स्ट्रेटजी नहीं होती The miracle morning 30-day "Habits Mastery" Strategy को अप्लाई करने के लिए सबसे पहले आप 30 दिनों को तीन हिस्सों में डिवाइड कर दें।

(Days 1 to 10) The First Phase: Unbearable.

शुरुआत की 10 दिनों में आपको अपनी नई हैबिट Unbearable यानी असहनीय लगेगी क्योंकि आपको बदलाव की आदत नहीं होती और आपका माइंड और आपकी बॉडी इसे एक्सेप्ट नहीं करते। जो भी हो आपको अपने माइंड में इस बात को बिठा लेना है कि यह फीलिंग बस टेंपरेरी है जब आप पहले 10 दिनों के लिए तैयार हो जाते हैं और यह रिलाइज कर लेते हैं कि आपकी सक्सेस के लिए यह बहुत जरूरी है तो आप चैलेंज को ओवरकम कर सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं।

Days (11 to 20) The Second Phase: Uncomfortable.

अगले 10 दिन थोड़े आसान होंगे क्योंकि आपको अपनी नई हैबिट की आदत पढ़नी शुरू हो जाएगी हालांकि अब यह पहले की तरह Unbearable नहीं होगी लेकिन फिर भी आप Uncomfortable फील करेंगे। अपनी नई हैबिट को बनाए रखने के लिए आपको डिसिप्लिन, डेडीकेशन और कमिटमेंट की जरूरत पड़ेगी।

Days (21-30) The Third Phase: Unstoppable

आखिरी 10 दिन आप हैबिट का मेक और ब्रेक पीरियड होगा हैबिट लंबे टाइम तक बनाए रखने के लिए यह आखिरी 10 दिन बहुत इंपॉर्टेंट होते हैं यही वो टाइम है जब एक्चुअल ट्रांसफॉरमेशंस शुरू होता है और आपकी नई हैबिट आप की आइडेंटिटी से जुड़ जाती है इसलिए अपने नई हैबिट को आखिर के 10 दिन में कंटिन्यू रखना बहुत जरूरी है।

दोस्तों मुझे उम्मीद है कि आप को The miracle morning पर बनाई है Article पसंद आया होगा मैं जल्दी आपके लिए एक नया लाइफ चेंजिंग Article लेकर आऊंगा तो चलिए मिलते हैं अगले Article में आपका समय शुभ हो।

Close